Bhagat Singh Quotes In Hindi

Bhagat Singh Quotes In Hindi

Bhagat Singh Quotes In Hindi – गणेश जी का नाम लेकर आईये बढ़ते है आज की नयी आर्टिकल (Post) की तरफ |

ये भारत जिसको हम इतना प्यार करते है उसको आज़ादी आसानी से ही नहीं मिल गयी | इसके लिए हमारे कई हमारे पूर्बज हमारे भाई – बहनो ने अपने प्राण युही  निछावर कर दिए उन्ही में से एक भगत सिंह है जिनके बारे में हम आज जाने गे | 

पहले लाहौर में बर्नी सैंडर्स की हत्या और उसके बाद दिल्ली की केन्द्रीय संसद में बम-विस्फोट करके ब्रिटिश साम्राज्य के विरुद्ध खुले विद्रोह को बुलन्दी प्रदान करने वाले भगत सिंह का जन्म 27 सितंबर 1907 को लायलपुर जिले के बंगा में हुआ था, जो अब पाकिस्तान में है।  चन्द्रशेखर आजाद व पार्टी के अन्य सदस्यों के साथ मिलकर इन्होंने भारत की स्वतंत्रता के लिए अभूतपूर्व साहस के साथ शक्तिशाली ब्रिटिश सरकार का मुक़ाबला किया। 

 इन्होने लाहौर में बर्नी सैंडर्स की हत्या और उसके बाद दिल्ली की केन्द्रीय संसद में बम-विस्फोट करके ब्रिटिश साम्राज्य के विरुद्ध खुले विद्रोह किया और इन्होंने असेम्बली में बम फेंककर भी भागने से मना कर दिया। जिसके फलस्वरूप अंग्रेज सरकार ने इन्हें 23  मार्च 1931 को इनके दो अन्य साथियों, राजगुरु तथा सुखदेव के साथ फाँसी पर लटका दिया गया।

BHAGAT SINGH QUOTES IN HINDI

 भगत सिंह बचपन से ही गलत का विरुद्ध करने वाले व्यवहार के इंसान थे | 14 वर्ष की आयु में ही भगत सिंह ने सरकारी स्‍कूलों की पुस्‍तकें और कपड़े जला दिए। इसके बाद इनके पोस्‍टर गांवों में छपने लगे।

 भगत सिंह से जुड़ी एक और घटना –  भगत सिंह पहले महात्‍मा गांधी द्वारा चलाए जा रहे आंदोलन और भारतीय नेशनल कॉन्फ्रेंस के सदस्‍य थे। 1921 में जब चौरा-चौरा हत्‍याकांड के बाद गांधीजी ने किसानों का साथ नहीं दिया तो भगत सिंह पर उसका गहरा प्रभाव पड़ा। उसके बाद चन्द्रशेखर आजाद के नेतृत्‍व में गठित हुई गदर दल के हिस्‍सा बन गए।

उन्‍होंने चंद्रशेखर आजाद के साथ मिलकर अंग्रेजों के खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया। 9 अगस्त, 1925 को शाहजहांपुर से लखनऊ के लिए चली 8 नंबर डाउन पैसेंजर से काकोरी नामक छोटे से स्टेशन पर सरकारी खजाने को लूट लिया गया। यह घटना काकोरी कांड नाम से इतिहास में प्रसिद्ध है।

अभी तक हमने भगत सिंह के बारे में उनके  बचपन और क्रांतिमय किस्से जाने आप पेश है कुछ भगत सिंह द्वारा आज़ादी की समय कहे गए कुछ बिचार(Quotes) – 

हम daily ऐसे ही नए, नए  Motivational, Inspiring, Success और  स्वतंत्रा से Related Post(आर्टिकल) लाते रहते है | अगर आप को हमारे यह  Post(आर्टिकल) पसंद आये तो इसे Like और Share जरूर करे और हमारे लिए कोई सुझाब हो तो उसे Comment Box में जरूर बताये | और daily नए Post (आर्टिकल) के लिए हमारी Website( Shayaristaan.com ) जरूर Visit करे | धन्यबाद आप का दिन शुभ हो | 

BHAGAT SINGH QUOTES

किसी भी इंसान को मारना आसान है, 

परन्तु उसके विचारों को नहीं। 

महान साम्राज्य टूट जाते हैं, 

तबाह हो जाते हैं जबकि उनके विचार बच जाते हैं।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

bhagat singh quotes | किसी भी इंसान को मारना आसान है,  परन्तु उसके विचारों को नहीं।  महान साम्राज्य टूट जाते हैं,  तबाह हो जाते हैं जबकि उनके विचार बच जाते हैं।

मैं एक मानव हूँ और जो कुछ भी ,

मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है। 

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

इंसान तभी कुछ करता है जब वो अपने काम के,

औचित्य को लेकर सुनिश्चित होता है, 

जैसाकि हम विधान सभा में बम फेंकने को लेकर थे।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है,

मैं एक ऐसा पागल हूँ जो जेल में भी आज़ाद है।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

Bhagat Singh Quotes in Hindi

 

जो व्यक्ति भी विकास के लिए खड़ा है उसे,

हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी, 

उसमे अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनौती देनी होगी।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

व्यक्तियो को कुचल कर, 

वे विचारों को नहीं मार सकते। 

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

 bhagat singh dialogue | व्यक्तियो को कुचल कर,  वे विचारों को नहीं मार सकते।   – भगत सिंह(Bhagat Singh)

BHAGAT SINGH DIALOGUE

इस कदर वाकिफ है मेरी कलम मेरे जज़्बातों से,

अगर मैं इश्क़ लिखना भी चाहूँ तो इंक़लाब लिख जाता है।।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

 इंसान तभी कुछ करता है जब वो अपने काम के,

औचित्य को लेकर सुनिश्चित होता है, 

जैसा कि हम विधान सभा में बम फेंकने को लेकर थे।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

सूर्य विश्व में हर किसी देश पर उज्ज्वल हो कर गुजरता है ,

परन्तु उस समय ऐसा कोई देश नहीं होगा जो भारत देश के सामान इतना स्वतंत्र, 

इतना खुशहाल इतना प्यारा हो (bhagat singh quotes in hindi)

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

जो व्यक्ति विकास के लिए खड़ा है,

उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी, 

उसमें अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनौती देनी होगी।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

अपने दुश्मन से बहस करने के लिये 

उसका अभ्यास करना बहुत जरुरी है। 

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

bhagat singh quotes | अपने दुश्मन से बहस करने के लिये  उसका अभ्यास करना बहुत जरुरी है।   – भगत सिंह(Bhagat Singh)

इश्क लिखना भी चाहूं तो इंकलाब लिख जाता हूं,

इस कदर वाकिफ है मेरी कलम मेरे जज्बातों से,

अगर मैं इश्क लिखना भी चाहूं तो इंकलाब लिख जाता हूं।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

BHAGAT SINGH SLOGAN

 * वे मुझे मार सकते हैं लेकिन,

वे मुझे मार सकते हैं,लेकिन वे मेरे विचारों को नहीं मार सकते,

 * वे मेरे शरीर को कुचल सकते हैं,मेरी आत्मा को नहीं 

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

मेरा रँग दे बसन्ती चोला, 

मेरा रँग दे मेरा रँग दे बसन्ती चोला,

माय रँग दे बसन्ती चोला।

 – भगत सिंह (Bhagat Singh)

 

एक इन्सान हूँ और जो भी चीजे इंसानियत,

पर प्रभाव डालती है मुझे उनसे फर्क पड़ता है।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

Bhagat Singh Quotes in Hindi

 

मैं एक इंसान हूँ। वो हर बात मुझे प्रभावित करती है 

जो इंसानियत को प्रभावित करे। 

– भगत सिंह(Bhagat Singh)

भगत सिंह शायरी इन हिंदी

अगर हमें सरकार बनाने का मौका मिलेगा तो,

किसी के पास प्राइवेट प्रॉपर्टी नहीं मिलेगी।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

कानून कि पवित्रता तभी तक बनी रह सकती है,

जब तक वो लोगों कि इच्छा कि अभिव्यक्ति करे |

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

अगर धर्म को अलग कर दिया जाए तो,

राजनीति पर हम सब इकठ्ठे हो सकते है. 

धर्मों में हम चाहे अलग अलग ही रहें 

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

BHAGAT SINGH THOUGHTS

 

मुझे खुद को बचाने की कोई इच्छा नहीं थी, 

और मैंने कभी इसके बारे में गंभीरता से नहीं सोचा।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

स्वतंत्रता हर इंसान का कभी न ख़त्म होने 

वाला जन्म सिद्ध अधिकार है। 

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

भगत सिंह के लेख

यह शादी करने का समय नहीं है,

मेरा देश मुझे बुला रहा है।

मैंने अपने दिल और आत्मा के साथ देश,

की सेवा करने के लिए एक प्रतिज्ञा ली है।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

मैं पूरी तरह से समझने में असफल रहा हूं कि,

भगवान में विश्वास करने वाले व्यक्ति के,

रास्ते में कितना गर्व या व्यर्थ-गौरव कभी खड़ा हो सकता है।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

 मेरे जीवन का केवल एक ही लक्ष्य है और वो है,

देश की आज़ादी. इसके अलावा कोई,

और लक्ष्य मुझे लुभा नहीं सकता.

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

आज जो मै आगाज लिख रहा हूँ, 

उसका अंजाम कल आएगा. 

मेरे खून का एक एक कतरा कभी तो इन्कलाब लाएगा.

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

विद्रोह कोई क्रांति नहीं है,

 यह अंततः उस अंत तक ले जा सकता है।  

– भगत सिंह(Bhagat Singh)

 bhagat singh thoughts | विद्रोह कोई क्रांति नहीं है, यह अंततः उस अंत तक ले जा सकता है। – भगत सिंह(Bhagat Singh)

BHAGAT SINGH QUOTES FOR KIDS

अगर अपने दुश्मन से बहस करनी है और,

उससे जीतना है तो इसके लिए अभ्यास करना जरूरी है.

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

 कानून में विश्वास और उसकी पवित्रता,

तब तक ही बनी रह सकती है,

जब तक वो लोगों को सही न्याय दिलाता रहे और,

उनकी इच्छाओं की अभिव्यक्ति करे |

बुराई बढ़ने का कारण बढ़ते हुए बुरे लोग नहीं हैं, 

बल्कि इसके लिए वो लोग जिम्मेदार हैं जो,

चुपचाप बुराई को सहन करते जा रहे हैं |

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

स्वतंत्रता हर व्यक्ति का जन्मसिद्ध अधिकार है और,

अगर कोई इसके बीच रोड़ा बने तो,

आदमी को क्रांतिकारी बनने का भी अधिकार है |

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

बुराई इसलिए नहीं बढ़ रही है कि, 

बुरे लोग बढ़ गए है बल्कि बुराई इसलिए बढ़ रही है क्योंकि,

बुराई सहन करने वाले लोग बढ़ गये है।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

bhagat singh quotes for kids | बुराई इसलिए नहीं बढ़ रही है कि,  बुरे लोग बढ़ गए है बल्कि बुराई इसलिए बढ़ रही है क्योंकि, बुराई सहन करने वाले लोग बढ़ गये है।  – भगत सिंह(Bhagat Singh)

जरूरी नहीं था कि क्रांति में अभिशप्त संघर्ष शामिल हो, 

यह बम और पिस्तौल का पंथ नहीं था।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

लिख रह हूँ मैं अंजाम जिसका कल आगाज़ आएगा,

मेरे लहू का हर एक कतरा इंकलाब लाएगा। 

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

भगत सिंह के विचार

महान साम्राज्य ध्वंस हो जाते हैं,

पर विचार जिंदा रहते हैं।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

अपने दुश्मन से बहस करने के लिये,

उसका अभ्यास करना बहोत जरुरी है।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

दिल से निकलेगी न मरकर भी वतन की उलफत, 

मेरी मिट्‌टी से भी खुशबू-ए वतन आएगी ।

 – भगत सिंह(Bhagat Singh)

 

Revolution is an inalienable right of mankind.

Freedom is an imperishable birth right of all.

 – Bhagat Singh

 भगत सिंह के विचार | Revolution is an inalienable right of mankind. Freedom is an imperishable birth right of all.  – Bhagat Singh

Merciless criticism and independent thinking are the two

necessary traits of revolutionary thinking.

 – Bhagat Singh

 

The dirty alliance between religious preachers and possessors of power brought the boon of prisons,

gallows, knouts and above all such theories for the mankind.

 – Bhagat Singh

 

LINES OF BHAGAT SINGH IN ENGLISH

For us, compromise never means surrender,

but a step forward and some rest. 

That is all and nothing else.

 – Bhagat Singh

bhagat singh status | For us, compromise never means surrender, but a step forward and some rest.  That is all and nothing else.  – Bhagat Singh

Philosophy is the outcome of human 

weakness or limitation of knowledge.

 – Bhagat Singh

 

They may kill me, but they cannot kill my ideas. 

They can crush my body, but they will not be able to crush my spirit.

 – Bhagat Singh

few lines on bhagat singh in english | They may kill me, but they cannot kill my ideas.  They can crush my body, but they will not be able to crush my spirit.  – Bhagat Singh

A rebellion is not a revolution.

 It may ultimately lead to that end.

 – Bhagat Singh

 

But man’s duty is to try and endeavour,

success depends upon chance and environments.

 – Bhagat Singh

bhagat singh shayari

I never had any desire to defend myself, 

and never did I seriously think about it. 

 – Bhagat Singh

 

BHAGAT SINGH STATUS

1 I am a man and all that affects mankind concerns me.

 – Bhagat Singh

भगत सिंह के अनमोल विचार

I will climb the gallows gladly and show to the world

 as to how bravely the revolutionaries can sacrifice themselves for the cause

 – Bhagat Singh

 

Love always elevates the character of man,

It never lowers him, provided love be love.

 – Bhagat Singh

भगत सिंह Status in Hindi

This is not the time to marry. My country is calling me.

 I have taken a vow to serve the country with my heart and soul

 – Bhagat Singh

 

1 If the deaf are to hear the sound has to be very loud

 – Bhagat Singh

भगत सिंह के विचार | If the deaf are to hear the sound has to be very loud

But man’s duty is to try and endeavour,

 success depends upon chance and environments.  

 

 – Bhagat Singh

Every tiny molecule of Ash is in motion with my heat

 I am such a Lunatic that I am free even in Jail.

 – Bhagat Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published.